April 17, 2024

दिल्ली में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान खड़गे ने कहा कि लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है। देश के हर नागरिक भाग के लिए उत्सुक है। किसी भी लोकतंत्र के लिए निष्पक्ष चुनाव अनिवार्य होता है। साथ ही यह भी होता है कि सभी राजनीतिक दल के लिए लेवल प्ले ग्राउंड हो। सभी के पास समान रुप से संसाधन हो।

ये नहीं कि जो सत्ता में उनका अधिकार ज्यादा हो। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जो चुनावी बॉन्ड जो तथ्य निकलकर सामने आए, वो बहुत चिंताजनक है। शर्मनाक भी है, क्योंकि इससे हमारे देश की छवि को ठेस पहुंची है।

उन्होंने आगे कहा कि हमारे देश में पिछले 70 सालों में निष्पक्ष चुनाव हुए, उस पर प्रश्न चिन्ह उठ गया है। सुप्रीम कोर्ट ने जिस चुनावी बॉड को गलत ठहराया है। उस स्कीम के तहत मौजूदा सत्ता दल ने अपने लिए हजारों करोड़ रुपए भर लिया है। और दूसरी तरफ साजिशन मुख्य विपक्षी दल का अकाउंट फ्रीज कर दिया है ताकि पैसे के अभाव में बराबरी में चुनाव ना लड़ पाए। ये सत्ताधारी पार्टी का खेल है। उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि बहुत जल्द सच्चाई सामने आएगी। और अंत में मैं देश के संवैधानिक संस्थाओं से अपील करता हूं, फ्री और फेयर इलेक्शन चाहते है तो बैगर किसी रोक टोक के हमारे बैंक अकाऊंट के पैसे को खर्च करने दें। मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि हमारा खाता फ्रीज कर दिया गया है। खाता फ्रीज करना सत्ताधारी दल का खतरनाक खेल है। बीजेपी ने खुद हजारों करोड़ भर लिए और हमारे बैक अकाउंट फ्रीज कर दिए।

इस दौरान कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी ने कहा कि हम लोकतंत्र को बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। इलेक्टोरल बॉन्ड से बीजेपी को बड़ा फायदा हुआ है। अगर कांग्रेस किसी भी तरह से चुनाव प्रचार में खर्च नहीं कर सके तो चुनाव किस बात का। पिछले एक महीने से हम हमारे 285 करोड़ का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। अगर हम कोई काम नहीं कर सकते तो लोकतंत्र कैसे जिंदा रहेगा।

वहीं राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के बैंक अकाउंट फ्रीज कर दिए गए। किसी कोर्ट ने, चुनाव आयोग ने कुछ नहीं कहा। यहां कोई लोकतंत्र नहीं है। भारत की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी का बैंक अकाउंट फ्रीज कर दिया गया है और संवैधानिक संस्थानों ने कुछ भी नहीं किया। राहुल गांधी ने आगे कहा कि एक महीने पहले कांग्रेस के सारे अकाउंट फ्रीज कर दिए गए। अगर किसी भी परिवार के अकाउंट फ्रीज कर देंगे तो वे भूखे मर जाएंगे। लेकिन हमारे अकाउंट फ्रीज होने पर किसी ने चूं तक नहीं की, चुनाव आयोग से लेकर सभी ने चुप्पी तोड़ दी। बीस फीसदी भारत हमारे लिए वोट करता है।

राहुल गांधी ने कहा कि बैंक खातों के बिना हम कैसे चुनाव लड़ेंगे। आप सोचिए आपके अकाउंट बंद हो जाए, एटीएम बंद हो जाए तो आप कैसे सरवाइव करेंगे। हम ना प्रचार कर सकते हैं, ना ट्रेवल कर सकते हैं, ना नेताओं को पैसे दे सकते हैं। राहुल गांधी ने आगे कहा कि चुनाव से 2 महीने पहले ये सब करना दिखाता है कि वो कांग्रेस को चुनाव ही नहीं लड़ने देना चाहते हैं। एक महीने पहले कांग्रेस के सारे अकाउंट फ्रीज कर दिए, कांग्रेस के साथ अन्याय हो रहा है। उन्होंने कहा कि इलेक्शन कमिशन ने चुप्पी साध ली। हमें 20 % लोग वोट करते हैं। सारी संवैधानिक संस्थाएं चुप हैं।

कांग्रेस सांसद ने कहा कि 7 साल पहले 14 लाख का इश्यू था। आज 200 करोड़ वसूल रहे हैं। जबकि नियम के मुताबिक 10 हज़ार रुपये तक की ही पेनाल्टी लग सकती है।सीताराम केसरी के वक्त के नोटिस दिए जा रहे हैं। देश में लोकतंत्र है, ये सबसे बड़ा झूठ है। हमारे खाते फ्रीज नहीं किए बल्कि लोकतंत्र को फ्रीज किया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *