June 18, 2024

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि भाजपा ने दिल्ली में उसके सात विधायकों को पार्टी छोड़ने के लिए 25-25 करोड़ रुपये का ऑफर दिया है, साथ ही केजरीवाल सरकार को गिराने की धमकी भी दी है।

हालांकि, दिल्ली बीजेपी ने इस आरोप को खारिज कर दिया और आप को उन विधायकों और उन लोगों के नाम बताने की चुनौती दी है जिन्होंने ऑफर के साथ उनसे संपर्क किया था।

 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट किया है और लिखा है कि उनकी पार्टी के सात विधायकों से “उन्होंने” संपर्क किया था और चेतावनी दी थी कि आप संयोजक को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

 

केजरीवाल के मुताबिक, कॉल करने वालों ने दावा किया कि वे 21 आप विधायकों के संपर्क में हैं। आप नेता ने आरोप लगाया कि दिल्ली सरकार गिराने के बाद विधायकों को चुनाव लड़ने के लिए 25 करोड़ रुपये और प्रत्येक को भाजपा का टिकट देने का वादा किया गया था।

केजरीवाल ने कहा कि आप के सभी सात विधायकों ने पार्टी छोड़ने से इनकार कर दिया है। उन्होंने यह भी दावा किया कि दिल्ली में आप सरकार को गिराने के लिए कथित शराब घोटाले के मामले में उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश भी की जा रही है।

केजरीवाल ने कहा कि पिछले नौ वर्षों में दिल्ली में आप सरकार को गिराने के लिए कई साजिशें रची गईं लेकिन वे सभी नाकाम रहीं।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली की मंत्री आतिशी ने आरोप लगाया कि भाजपा ने दिल्ली में ‘ऑपरेशन लोटस 2.0’ शुरू किया है। उन्होंने दावा किया, ”उन्होंने पिछले साल आप विधायकों को पैसे की पेशकश कर अपने पाले में करने की इसी तरह की कोशिश की थी, लेकिन वे इस कोशिश में नाकाम रहे।”

आप के आरोप का खंडन करते हुए दिल्ली भाजपा सचिव हरीश खुराना ने आतिशी को चुनौती दी कि वे संपर्क किए गए विधायकों के नाम बताएं और उन विधायकों के भी नाम बताएं जो प्रस्ताव लेकर उनके पास पहुंचे थे।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी शराब घोटाले में पूछताछ के लिए ईडी के सामने केजरीवाल के नहीं पेश होने से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है।

(‘द टेलिग्राफ’ में प्रकाशित खबर पर आधारित।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *