July 12, 2024

पंजाब और हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर बुधवार दोपहर सुरक्षाबलों की ओर से किसानों पर आँसू गैस के गोले दागे जाने की ख़बरें आ रही हैं.

मौके से आती तस्वीरों में हर जगह धुआँ और अफ़रा-तफ़री का माहौल नज़र आ रहा है.

समाचार एजेंसियों की ओर से जारी वीडियो और तस्वीरों में आँसू-गैस के गोले दागे जाने की आवाज़ें भी सुनी जा सकती हैं.

उधर खनौरी में हरियाणा-पंजाब की सरहद पर में तनाव है. वहां कुछ युवकों के घायल होने की ख़बर है. सयुंक्त किसान मोर्चा (अराजनैतिक) के लीडर जगजीत सिंह डल्लेवाल ने कहा है कि पुलिस मार्च कर रहे है किसान नेताओं पर आँसू गैस के गोले दागे गए हैं.

पंजाब हरियाणा की सीमा पर स्थित खनौरी बॉर्डर पर एक किसान की कथित तौर पर गोली लगने से मौत हो गई है.

किसान नेताओं ने इस युवक की मौत के बारे में मीडिया से बात की है. पटियाला के एक सरकारी अस्पताल ने भी शुभकरण सिंह नामक युवक की मौत की पुष्टि की है. हालांकि, हरियाणा की पुलिस ने किसी भी किसान की मौत की ख़बर को अफवाह बताया है.

पटियाला के राजिंदरा अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. हरनाम सिंह रेखी ने पुष्टि की है कि किसान आंदोलन के दौरान खनौरी बॉर्डर पर कथित गोलीबारी में 24 वर्षीय शुभकरण सिंह की मौत हो गई है.

उन्होंने कहा, “मौत का प्राथमिक कारण सिर के पीछे गोली लगना है. उन्हें मृत अवस्था में पटियाला के राजिंदरा सरकारी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल लाया गया था.”

उन्होंने कहा है कि विस्तृत जानकारी पोस्टमार्टम के बाद ही सामने आएगी. शव को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है.

अस्पताल के मुताबिक, शुभ करण सिंह बठिंडा ज़िले के बालोन गांव के रहने वाले थे. किसान नेताओं ने इस मामले में समाचार एजेंसियों से बात की है. किसान नेता पंढेर ने कहा, “जब आप हमारे सीधे लड़के मारेंगे तो शांति कहां से रहती है. अर्जुन मुंडा से जो कहा गया, वो तो उन्होंने किया नहीं. बातचीत के लिए हम कभी इनकार नहीं करते. सरकार उसके लिए माहौल बनाए. जब हमारे लोग शहीद हो रहे हैं तो बातचीत उचित नहीं होती.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *