May 25, 2024

आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया है कि सात साल में करीब एक लाख करोड़ रुपये का घाटा उठाने वाली 33 कंपनियों ने टैक्स में छूट हासिल करने के लिए चुनावी बाॅन्ड के जरिए या अन्य तरीके से भाजपा को 450 करोड़ रुपये का चंदा दिया।

दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि मोदी सरकार ने चुनावी बाॅॅन्ड और टैक्स में छूट देने के नाम पर भ्रष्टाचार किया और उसे जनता से छुपाया।

चुनावी बॉन्ड का डेटा जनता के सामने लाने के लिए सुप्रीम कोर्ट को धन्यवाद देते हुए संजय सिंह ने कहा कि सात साल में एक लाख करोड़ की घाटे वाली 33 कंपनियाें ने बीजेपी को दान में 450 करोड़ रुपये दिए। इसका उन्होंने सिलसिलेवार ब्यौरा दिया।

संजय सिंह ने कहा कि 17 कंपनियों ने या तो एक पैसा भी टैक्स नहीं दिया या टैक्स में छूट प्राप्त की। छह कंपनियों ने बीजेपी को 600 करोड़ रुपये का चंदा दिया। एक कंपनी ने अपने मुनाफे से तीन गुना ज्यादा दान दिया। एक अन्य कंपनी ने अपने मुनाफे से 93 गुना ज्यादा दान दिया। तीन कंपनियों ने 28 करोड़ रुपये का दान दिया और एक भी पैैैसा टैक्स नहीें दिया।

आप नेता ने कहा, “भारती एयरटेल ने भाजपा को 200 करोड़ रुपये का चंदा दिया, जबकि 2017-23 के दौरान उसे 77 हजार करोड़ रुपये का घाटा हुआ। कंपनी को टैक्स में 8,200 करोड़ रुपये की छूट मिली। कुछ छूट अदालत के आदेश पर मिली थीं।”

सिंह ने कहा,“डीएलएफ ने बीजेपी को 25 करोड़ रुपये दिए, लेकिन सात साल में उसे 130 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। उसे 20 करोड़ रुपये की टैक्स छूट मिली। स्टील स्टेटिक इंजीनियरिंग ने दान में 12 करोड़ रुपये दिए। सात वर्षों में उसे 150 करोड़ रुपये का घाटा हुआ और 160 करोड़ रुपये की टैक्स छूट प्राप्त की।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *